Home / Sliders / नया अपडेट में Whatsapp नही कर रहा है आपके प्राइवेसी से छेड़छाड़,अफवाह के बाद आया कंपनी का जवाब ।

नया अपडेट में Whatsapp नही कर रहा है आपके प्राइवेसी से छेड़छाड़,अफवाह के बाद आया कंपनी का जवाब ।

दरअसल फेसबुक के स्वामित्व वाली कंपनी whatsapp ने हाल ही में एक नया अपडेट लाया है जिसमें प्राइवेसी सुरक्षा लीक होने की बात चर्चाओं में गर्म थी ,लोगों ने तरह तरह के एप को ट्रेंड कराना भी शुरू कर दिया था,कई लोग whatsapp से शिफ्ट भी हो गए लेकिन whatsapp ने अपने बदलाव के बाद उड़ रहे अफवाह पर जवाब दिया है और यह कहा है कि न हम न ही फेसबुक आपके किसी प्राइवेसी के साथ कोई छेड़छाड़ कर रहे हैं ।दरअसल ऐसे अपडेट उपभोक्ताओं के सुविधा के लिए बढ़ाई जाती है ,ऐसे अपडेट आने के बाद whatsapp ने तारीख भी मुकर्रर की है इन तमाम मुद्दों पर उठ रहे सवालों के बीच whatsapp ने अपने उपभोक्ताओं के लिए साफ तौर पर जवाब दे दिया है ।

Whatsapp ने उड़ रहे अफवाह पर लिखा है कि

WhatsApp की प्राइवेसी पॉलिसी से जुड़े आपके सवालों के जवाब :


हमने हाल ही में अपनी प्राइवेसी पॉलिसी अपडेट की थी. अपडेटेड पॉलिसी पर कई सवाल भी उठे हैं और साथ ही गलत जानकारी भी फैल रही है, ऐसे में हम आपके कुछ ऐसे सवालों के जवाब देना चाहते हैं जो हमसे कई और लोगों ने भी पूछे हैं. हमने WhatsApp को बहुत मेहनत से ऐसा बनाया है ताकि हमारे यूज़र्स एक-दूसरे से प्राइवेटली कनेक्ट कर सकें.

हम आपको बताना चाहते हैं कि इस पॉलिसी अपडेट से आपके दोस्तों या परिवारजनों के मैसेजेस की प्राइवेसी किसी भी तरह से प्रभावित नहीं होगी. बल्कि इस पॉलिसी अपडेट में बदलावों का ज़िक्र किया गया है जैसे कि WhatsApp पर बिज़नेस को मैसेज भेजना, जो कि ऑप्शनल है और यह भी साफ़-साफ़ बताया गया है कि हम डेटा को कैसे इकट्ठा और इस्तेमाल करते हैं.

आपके प्राइवेसी को न फेसबुक न हम करते हैं बाहर

आपकी प्राइवेट और सुरक्षित निजी (पर्सनल) मैसेजिंग
Facebook और हम न ही आपके प्राइवेट मैसेजेस देख सकते हैं और न ही कॉल्स सुन सकते हैं: आप अपने दोस्तों, परिवारजनों और साथ काम करने वालों को WhatsApp पर जो मैसेजेस भेजते हैं या कॉल पर बात करते हैं, उन्हें न तो WhatsApp देख/सुन सकता है और न ही Facebook. आप अपनों के साथ जो भी शेयर करते हैं, वह आप दोनों के बीच ही रहता है, क्योंकि आपके पर्सनल मैसेजेस एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन से सुरक्षित होते हैं. हम इस सुरक्षा को कभी कमज़ोर नहीं पड़ने देंगे. हम एन्क्रिप्शन को बहुत महत्त्व देते हैं इसलिए आप देखेंगे कि हर एक चैट पर एन्क्रिप्शन का लेबल लगा होता है.

कौन किसे मैसेज भेज रहा है या कॉल कर रहा है, इसका रिकॉर्ड हम नहीं रखते: ऐसा पहले होता था कि मोबाइल कंपनियाँ और ऑपरेटर यह जानकारी स्टोर किया करते थे, लेकिन हमारे लिए यह संभव नहीं है. हमारा मानना है कि दो बिलियन (दो सौ करोड़) यूज़र्स का रिकॉर्ड रखने से प्राइवेसी और सुरक्षा दोनों को खतरा हो सकता है, इसलिए हम ऐसा नहीं करते.

Facebook और हम आपकी शेयर की गई लोकेशन नहीं देख सकते: जब आप WhatsApp पर अपनी लोकेशन शेयर करते हैं, तो आपकी लोकेशन एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन से सुरक्षित हो जाती है. इसका मतलब यह है कि आपकी लोकेशन को आपके और जिनके साथ आपने शेयर किया है, उनके अलावा कोई भी नहीं देख सकता.

हम Facebook के साथ आपकी कॉन्टैक्ट लिस्ट शेयर नहीं करते: आपकी अनुमति के बाद ही हम आपके फ़ोन की एड्रेस-बुक से सिर्फ़ फ़ोन नंबर ऐक्सेस करते हैं, ताकि आप अपने संपर्कों (कॉन्टैक्ट्स) के साथ आसानी से बातचीत कर सकें. हम आपकी यह जानकारी Facebook के दूसरे ऐप्स के साथ शेयर नहीं करते.

WhatsApp ग्रुप्स प्राइवेट हैं: हम मैसेजेस डिलीवर करने और अपनी सर्विस को स्पैम से बचाने के लिए ग्रुप मेम्बरशिप का इस्तेमाल करते हैं. हम यह डेटा Facebook के साथ शेयर नहीं करते. ध्यान दें, ये प्राइवेट चैट्स एंड-टू-एंड एन्क्रिप्टेड होती हैं, इसलिए हमें नहीं पता होता कि उनमें क्या बात हो रही है.

आप ‘गायब होने वाले मैसेज’ मोड का इस्तेमाल कर सकते हैं: अतिरिक्त सुरक्षा के लिए आप चुन सकते हैं कि किसी चैट में भेजे गए या आए गए मैसेजेस 7 दिन बाद गायब हो जाएँ. ज़्यादा जानकारी के लिए यह लेख देखें.

आप अपना डेटा डाउनलोड कर सकते हैं: आप ऐप में से ही डाउनलोड करके देख सकते हैं कि हमारे पास आपके अकाउंट की कौन-सी जानकारी है. ज़्यादा जानने के लिए यह लेख देखें.

बिज़नेस मैसेजिंग और हम Facebook के साथ कैसे काम करते हैं
हर रोज़, दुनियाभर में लाखों-करोड़ों लोग WhatsApp पर छोटे-बड़े बिज़नेस के साथ सुरक्षित रूप से बातचीत करते हैं. हम बिज़नेस के साथ आपकी बातचीत को और भी ज़्यादा आसान और बेहतर बनाना चाहते हैं. जब भी आप किसी ऐसे बिज़नेस से WhatsApp पर बात कर रहे होंगे जो नीचे लिखे फ़ीचर्स का इस्तेमाल कर रहे होंगे, तो हम आपके साथ हमेशा साफ़ व स्पष्ट रहेंगे.

Facebook होस्टिंग सर्विसेज़:

बिज़नेस को मैसेज भेजना अपने दोस्तों और परिवारजनों को मैसेज भेजने से अलग होता है. कुछ बड़े बिज़नेस अपने कस्टमर्स के साथ अपनी बातचीत को मैनेज करने के लिए होस्टिंग सर्विसेज़ का इस्तेमाल करते हैं. इसलिए हम बिज़नेसेस को Facebook की ओर से सुरक्षित होस्टिंग सर्विसेज़ की सुविधा दे रहे हैं ताकि वे अपने कस्टमर्स के साथ हुई WhatsApp चैट्स को मैनेज कर सकें, उनके सवालों के जवाब दे सकें और ज़रूरी जानकारी जैसे कि रसीद आदि भेज सकें. आप बिज़नेस से चाहे फ़ोन, ईमेल या WhatsApp पर संपर्क करें, वह देख सकते हैं कि आप किस बारे में बात कर रहे हैं और हो सकता है कि इस जानकारी को वे अपनी मार्केटिंग के लिए इस्तेमाल करें. हो सकता है कि वह आपको Facebook पर उससे जुड़े ऐडवरटाइज़मेंट भी दिखाएँ. अगर आप ऐसे बिज़नेस के साथ बात करते हैं जो Facebook की होस्टिंग सर्विस का इस्तेमाल कर रहे हैं, तो हम उनकी चैट्स को साफ़-साफ़ लेबल करते हैं ताकि आपको इस बात की पूरी जानकारी रहे.

नया कॉमर्स फ़ीचर:

आज-कल लोग ऑनलाइन शॉपिंग करना पसंद कर रहे हैं. Facebook के कॉमर्स फ़ीचर्स जैसे कि ‘शॉप’ से बिज़नेस अपना सामान सीधे WhatsApp से देख सकते हैं ताकि उन्हें पता रहे कि क्या अवेलेबल है. अगर आप शॉप से इंटरैक्ट करते हैं, तो बिज़नेस आपके शॉपिंग एक्स्पीरियंस को बेहतर बनाने के लिए आपकी शॉपिंग एक्टिविटी का इस्तेमाल कर सकते हैं और आपको Facebook और Instagram पर उससे मिलते-जुलते ऐडवरटाइज़मेंट भी दिखाई देंगे. ऐसे फ़ीचर्स ऑप्शनल होते हैं और जब आप इनका इस्तेमाल करते हैं, तो हम आपको ऐप में बताते हैं कि किस तरह से आपका डेटा Facebook के साथ शेयर किया जाएगा.

बिज़नेस को ढूँढना:

आपको Facebook पर ऐडवरटाइज़मेंट दिखेगा जहाँ बटन होगा जिससे सीधे WhatsApp पर बिज़नेस को मैसेज भेज सकते हैं. अगर आपने फ़ोन में WhatsApp इंस्टॉल किया हुआ है, तो आपको बिज़नेस को मैसेज भेजने का ऑप्शन दिखेगा. आप ऐडवरटाइज़मेंट के साथ जिस तरह से इंटरैक्ट करते हैं, उसके आधार पर Facebook चाहे तो आपको पर्सनलाइज़ ऐडवरटाइज़मेंट दिखाने के लिए इसका इस्तेमाल कर सकता है.

Whatsapp की पराइवेसी आप हिंदी में यहां पढ़ सकते हैं : क्लिक करें

About मैं हूँ गोड्डा (कार्यालय)

Check Also

कोरोना पर हेमंत सरकार की नयी गाइडलाइन, जानिए राज्य में क्या खुला और क्या बंद ।

झारखण्ड/कोरोना संक्रमण की ताजा स्थिति को लेकर रांची में आपदा प्रबंधन प्राधिकार की बैठक हुई। …

04-16-2021 10:28:28×