Home / जरा हटके / कोरोना के वीर: ऐसा आदिवासी गांव दे रहा संदेश जो कभी शराब बनाया करता था ।

कोरोना के वीर: ऐसा आदिवासी गांव दे रहा संदेश जो कभी शराब बनाया करता था ।

गोड्डा के ग्रामीण क्षेत्रों में भी लोग जागरूक होते नजर आ रहे हैं .मेहरमा प्रखंड के मेहरमा पंचायत के संताली टोला गाँव के ग्रामीणों ने अपने गाँव के सीमाने को चारों तरफ से सील कर दिया है .

ग्रामीणों का कहना था कि चूँकि ये महामारी इंसानी शरीर के सहारे फ़ैल रही है इसलिए हम लोगों ने अपने गाँव के ग्रामीणों की सुरक्षा के लिए अपने गाँव के सभी प्रमुख मार्गों को बंद कर दिया है और रात दिन इसकी पहरेदारी में लगे हुए हैं .किसी को बाहर से अन्दर आने की इजाजत नही दी जा रही और न ही गाँव से किसी को बाहर जाने की इजाजत दी गयी सिर्फ आवश्यक सेवाओं के लिए लोगों को छोड़ा जा रहा है .

IMG_20200326_113510
पूर्व मुखिया अनिल मुर्मू का कहना है कि पुरे पंचायत के आदिवासी गाँव के ग्रामीणों को भी हम ये जागरूक कर रहे हैं कि गाँव के ही लोग जो बाहर से आ रहे हैं वो अपनी जांच करा लें उसके बाद ही गाँव में आयें ताकि हम सुरक्षित हमारा गाँव सुरक्षित रहे और हमारा देश और प्रदेश सुरक्षित रहे .

एक समय ऐसा भी था जब इसी गांव में भारी मात्रा में देसी शराब भी बना करता था,लेकिन आज यही आदिवासी गांव लोगों को संदेश दे रही है ।
सही मायनों में प्रधानमंत्री के 21 दिनों के लॉक डाउन को अगर इसी तरह शहरी क्षेत्र के साथ ग्रामीण क्षेत्रों के लोग भी जागरूक होकर रहें तो कोरोना जैसे महामारी से भारत जरुर विजय पा सकता है ।

About मैं हूँ गोड्डा (कार्यालय)

Check Also

कोरोना पर हेमंत सरकार की नयी गाइडलाइन, जानिए राज्य में क्या खुला और क्या बंद ।

झारखण्ड/कोरोना संक्रमण की ताजा स्थिति को लेकर रांची में आपदा प्रबंधन प्राधिकार की बैठक हुई। …

04-10-2021 20:02:56×