Home / ताजा खबर / गोड्डा सीट कांग्रेस को नही मिली तो संथाल से इस्तीफा देगी कोंग्रेस :डॉ इरफान अंसारी ।

गोड्डा सीट कांग्रेस को नही मिली तो संथाल से इस्तीफा देगी कोंग्रेस :डॉ इरफान अंसारी ।

गोड्डा लोकसभा सीट बनी महागठबंधन की गले की हड्डी।

एनडीए को सत्ता से बेदखल करने के लिये पूरा विपक्ष एक जुट होने का प्रयास कर रहा है लेकिन यही बेमेल गठबंधन यूपीए के लिए गले की हड्डी बन रहा है।
गोड्डा लोकसभा सीट से झारखण्ड महागठबंधन के लिए सर दर्द साबित हो रहा है जहां से कांग्रेस के पूर्व सांसद फुरकान अंसारी और जेवीएम के प्रदीप यादव ताल ठोक रहे है।दिल्ली में हुई कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन की बैठक के बाद जब गोड्डा सीट कांग्रेस की पाले जा रही थी तब जेवीएम सुप्रीमो ने बगावती सुर अपनाते हुए गोड्डा सीट पर किसी भी हालत में समझौता को तैयार नही हुए और गोड्डा सीट पर अपना दावा ठोक दिया।जेवीएम महासचिव प्रदीप यादव ने कार्यकर्ताओं के साथ बैठक में भी कहा कि गोड्डा लोकसभा पर जेवीएम ही चुनाव लड़ेगी।
बीते रविवार को रांची में जेविएम के मंच पर जब सुबोधकांत सहाय को देखा गया तब लगा कि महागठबंधन में सब कुछ ठीक हो गया प्रेस को भी महागठबंधन के नेताओ ने कहा कि सब कुछ ठीक है गोड्डा लोकसभा सीट पर महागठबंधन के उम्मीदवार कौन होगा इसका फैसला जल्द हो जाएगा किसी भी स्थिति में भाजपा को सत्ता से बेदखल करना है।
कांग्रेस और जेवीएम के बदले सुर को देखते हुए जामताड़ा के विधायक डॉ इरफान अंसारी ने भी अपना दांव खेलते हुए यह कह डाला कि अगर गोड्डा लोकसभा सीट किसी और पार्टी के खाते में जाति है तो वो खुद एवं संथाल परगना के छः जिलाध्यक्ष समेत

 

पार्टी से इस्तीफा देंगे ,जामताड़ा में प्रेस में दिए बयान में उन्होंने कहा की संथाल परगना में कांग्रेस के 3 विधायक जीते हुए हैंं ,संथाल परगना के गोड्डा लोकसभा सीट पर काँग्रेस की पकड़ मजबूत है।ऐसे में पार्टी अगर कोई गलत फैसला लेती है तो हम इसका विरोध करेंगे विधायक इरफान अंसारी ने कहा कि जल्द ही संथाल परगना के सभी छह जिलाअध्यक्ष काँग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात करेंगे,और राष्ट्रीय अध्यक्ष को वतुस्थिति से अवगत करवाएंगे।
विधायक अंसारी ने कहा कि झाविमो गलत आंकड़े पेश कर कांग्रेस के पदाधिकारियों को गुमराह कर रहा है। मैं दावे के साथ कह सकता हूं कि झाविमो किसी भी सूरत में गोड्डा सीट नहीं जीत सकता। यह सीट कांग्रेस की परंपरागत सीट है और आज जब कांग्रेस पार्टी के जीतने का समय आया है तो हमारा हक छीना जा रहा है जो अच्छी बात नहीं है।

Screenshot_20190208-233319_Video Player

इसलिए मैं आलाकमान से पूरे मामले को गंभीरता पूर्वक विचार करने की मांग करता हूं कि गोड्डा लोकसभा सीट से कांग्रेस का ही उम्मीदवार उतारा जाय।
बहरहाल अब देखना यह है कि गोड्डा लोकसभा सीट महागठबंधन के किस पार्टी के खाते में जाता है डॉ इरफान अंसारी के इस बयान से यह तो स्पष्ट हो गया है कि किसी भी सूरत पर फुरकान अंसारी गोड्डा सीट जेवीएम के प्रदीप यादव के लिए छोड़ने को तैयार नही है।

About मैं हूँ गोड्डा (कार्यालय)

Check Also

नया अपडेट में Whatsapp नही कर रहा है आपके प्राइवेसी से छेड़छाड़,अफवाह के बाद आया कंपनी का जवाब ।

दरअसल फेसबुक के स्वामित्व वाली कंपनी whatsapp ने हाल ही में एक नया अपडेट लाया …

01-24-2021 11:22:12×