Home / प्रखंड / मेहरमा / रात में राकेश ने सजाई संगीता की मांग,सुबह होते ही उजड़ गई,राकेश की संदेहास्पद मौत ।

रात में राकेश ने सजाई संगीता की मांग,सुबह होते ही उजड़ गई,राकेश की संदेहास्पद मौत ।

“ऐ बाबू हो…हमरा छोड़ी के कहां चली गैलय हो”! शादी के अगले दिन हुई पति की मौत, दुल्हन की चीत्कार देख रोया पूरा गांव ।

ए बाबू हो। हमरा छोड़ी के कहां चली गैलय हो। की गलती होय गैलय हो। ये चीत्कार थी नवविवाहिता संगीता की। संगीता, शादी के अगले ही दिन विधवा हो गई। शादी की पहली सुबह को ही उसकी मांग उजड़ गई। अभी उसके हाथों की मेहंदी का रंग भी नहीं उतरा था। अभी तो कंगन बदलने वाली रस्म भी नहीं हुई थी और संगीता विधवा हो गई। उसकी चीत्कार और बिलखने की आवाज से पूरे गांव का कलेजा मानों छलनी हो रहा था। पूरा मामला क्या है, चलिए जानते हैं।

राकेश से हुई थी संगीता की शादी
मिली जानकारी के मुताबिक मेहरमा थानाक्षेत्र अंतर्गत बनौधा के रहने वाले राकेश यादव की शादी बीती रात यानी 6 जुलाई को धर्मोडीह की संगीता कुमारी के साथ हुई थी। विवाह लड़के पक्ष के घर में ही हुआ था। मंगलगीत गाए जा रहे थे। घर पे जागरण भी रखा गया था। सुबह कंगन बदलने की रस्म होने वाली थी लेकिन, जहां मंगलगीत की मंगलध्वनि सुनाई देना था वहां मातमी चीत्कार गुंज रही थी। जहां कुछ समय पहले शहनाई बज रही थी वहां अब मातमी सन्नाटा पसरा था क्योंकि नव-विवाहित दूल्हा मृत पाया गया। उसकी लाश घर के पास ही कुएं में मिली। राकेश की मौत क्यों हुई। उसकी मौत हत्या है या आत्महत्या। या फिर कोई दुर्घटना।

रात को छत पर सोने गया था राकेश
मृतक राकेश यादव के दोस्त सुशील कुमार यादव ने बताया कि रात को तकरीबन 10 बजे शादी संपन्न हो गई। शादी के बाद राकेश अपने दोस्तों के साथ बैठा था। घर के बाकी लोग और गांव वाले जागरण सुन रहे थे। तकरीबन 11 बजे गांव की लाईट चली गई। काफी गर्मी थी। राकेश ने अपने दोस्तों से कहा कि वो छत पर सोने जा रहा है। दोस्तों को भी लगा कि काफी गर्मी है, इसलिए वो छत पर सोने जा रहा है। बाकी लोग भी सोने चले गए। शादी वाला घर था। सभी लोग थके थे इसलिए गहरी नींद सो गए। सुबह कंगन बदलने वाली रस्म होने वाली थी। बकौल सुशील, जब कुछ लोग छत पर राकेश को उठाने गए तो वो वहां नहीं मिला। लगा कि शायद वो शौच के लिए खेतों की तरफ गया होगा लेकिन वो नहीं मिला। काफी देर तक खोजने के बाद राकेश की चप्पल पास ही कुएं के पास मिली। जब लोग वहां पहुंचे तो देखा कि राकेश की लाश कुएं में उपला गई है। उसकी मौत हो चुकी थी।

हत्या या आत्महत्या! जांच जारी
राकेश की लाश को कुएं से निकाला गया। पुलिस को घटना की सूचना दी गई। पुलिस छानबीन में जुटी है। मामला हत्या का है या राकेश ने आत्महत्या की है, फिलहाल ये जांच का विषय है। पुलिस प्रत्येक एंगल से जांच में जुटी है। कुछ दोस्तों और परिजनों का कहना है कि राकेश बीते कुछ दिनों से कुछ तनाव में था। वो गुमसुम रहने लगा था। घटना की जांच फिलहाल जारी है लेकिन संगीता को किस गलती की सजा मिली ये कौन जानता है। संगीता की चीत्कार पूरे गांव की दीवारों को माने भेद रही है। लोग समझा रहे हैं लेकिन वो भी भला क्या बोलें। क्या कहके संगीता को समझाएं। आखिर ऐसा क्या हो गया कि शादी के अगले ही दिन उसकी मांग उजड़ गई।

About मैं हूँ गोड्डा (कार्यालय)

Check Also

महगामा विधायक को मिली धमकी वाले नम्बर पर जांच शुरू,रिपोर्ट आने के बाद होगी सख्त कार्रवाई ।

महगामा विधायक दीपिका पांडे सिंह को पिछले दिनों एक नम्बर से फोन आता है ,फोन …

07-31-2021 13:13:48×