Home / ताजा खबर / पत्थर माफिया ने पत्रकार को बेरहमी पूर्वक पीटा, मामला दर्ज ।

पत्थर माफिया ने पत्रकार को बेरहमी पूर्वक पीटा, मामला दर्ज ।


गोड्डा/अवैध ढंग से बिना माइनिंग चालान के पत्थर, चिप्स एवं बालू का परिवहन करने वाले ट्रक एवं हाइवा चालकों का मनोबल आसमान छूता जा रहा है। दो दिन पूर्व महागामा के अनुमंडल पदाधिकारी की अगुवाई में बड़ी कार्रवाई की गई।अवैध परिचालन में लगे 35 ट्रक एवं हाइवा को जब्त किया गया। इस प्रशासनिक कार्रवाई से आक्रोशित अवैध कार्यों में संलिप्त माफिया तत्वों ने पत्रकारों को निशाना बनाना प्रारंभ कर दिया है।
इस कड़ी में गुरुवार को जब्त किए हाइवा एवं ट्रकों के मालिक एवं चालकों ने मिलकर एक राष्ट्रीय हिंदी दैनिक के अखबार के मेहरमा संवाददाता अनवर के साथ बुरी तरह मारपीट की। घटनास्थल पर मौजूद मेहरमा थाना के एक एएसआई द्वारा पत्रकार को नहीं बचाया जाता तो उसकी जान भी जा सकती थी। इस संदर्भ में पत्रकार के लिखित आवेदन पर मेहरमा थाना में मामला दर्ज किया गया है।

क्या है मामला:
गोड्डा जिला के सीमावर्ती क्षेत्र में स्थित मेहरमा एवं महागामा, हनवारा थाना क्षेत्र अवैध रूप से गिट्टी, चिप्स एवं बालू लदे वाहनों का कॉरिडोर बना हुआ है। साहिबगंज जिला से गिट्टी, चिप्स एवं बोल्डर लदे बड़े-बड़े ट्रक एवं हाइवा गोड्डा जिला के मेहरमा, महागामा, हनवारा थाना क्षेत्र होते हुए बिहार के भागलपुर जिला में प्रवेश कर जाते हैं। अधिकांश वाहनों के पास माइनिंग चालान नहीं होता है। वाहनों पर ओवरलोडेड पत्थर एवं चिप्स लदा रहता है। इस तरह के अवैध परिचालन से संबंधित थाना क्षेत्र को मोटी कमाई होती है। चर्चा है कि परिवहन विभाग एवं खनन विभाग तक भी चांदी का सिक्का पहुंचता है। परिणाम स्वरूप अवैध परिचालन बेरोकटोक जारी रहता है। खानापूर्ति के तौर पर कभी-कभी इक्का-दुक्का वाहनों को जब्त किया जाता है।
लेकिन जब प्रशासन का कोड़ा चलता है, तब बड़ी कार्रवाई होने का पता चलता है। इसी प्रकार की बड़ी कार्रवाई 23 जून को रात में महागामा के अनुमंडल पदाधिकारी जितेंद्र कुमार देव के नेतृत्व में खनन विभाग एवं परिवहन विभाग ने की। 23 जून की देर रात से 24 जून के अहले सुबह तक अवैध परिचालन के खिलाफ मेहरमा थाना क्षेत्र में व्यापक अभियान चलाया गया। परिणाम स्वरूप बगैर माइनिंग चालान के 35 ट्रक एवं हाइवा को पकड़ा गया।
अवैध परिचालन करने वाले ट्रक एवं हाइवा चालक इस बात से खफा रहते हैं कि पत्रकारों द्वारा खबर चलाए जाने के कारण ही प्रशासनिक स्तर से कार्रवाई की जाती है। 23 जून की रात में प्रशासनिक स्तर से की गई कार्रवाई का ठीकरा भी माफिया तत्वों द्वारा पत्रकारों के सिर पर ही फोड़ा गया। 24 जून को जब्त वाहनों की तस्वीर ले रहे एक हिंदी दैनिक के मेहरमा संवाददाता अनवर के साथ वाहन मालिकों एवं चालकों ने बेरहमी से पिटाई की। अपनी जान बचाने के लिए जब पत्रकार पानी से भरे एक गड्ढे में कूद गया तो वाहन मालिक एवं चालकों ने पत्थरों की बरसात कर दी। ड्यूटी पर मौजूद मेहरमा थाना के एएसआई विनय कुमार मंडल ने पत्रकार की जान बचाई।
पत्रकार की शिकायत पर मेहरमा थाना में अज्ञात वाहन मालिक एवं चालकों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। पत्रकारों द्वारा घटना के बाबत पुलिस अधीक्षक वाईएस रमेश को भी अवगत कराया गया है। एसपी श्री रमेश ने समुचित कार्रवाई करने का भरोसा दिया है। इस बीच पुलिस ने आधा दर्जन से अधिक वाहनों के चालक एवं खलासी को गिरफ्तार किया है। लेकिन घटना को अंजाम देने वाले वाहन मालिक एवं चालक पुलिस की पकड़ से दूर हैं।

About मैं हूँ गोड्डा (कार्यालय)

Check Also

झारखण्ड सरकार विकास के कार्यों को रोक, कल से खोले स्कूल : लोबिन हेम्ब्रम ।

गोड्डा/रविवार को झारखंड प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन रांची, जिला इकाई गोड्डा के द्वारा लगातार 17 महीने …

07-31-2021 12:14:38×