Home / ताजा खबर / झारखण्ड सरकार विकास के कार्यों को रोक, कल से खोले स्कूल : लोबिन हेम्ब्रम ।

झारखण्ड सरकार विकास के कार्यों को रोक, कल से खोले स्कूल : लोबिन हेम्ब्रम ।

गोड्डा/रविवार को झारखंड प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन रांची, जिला इकाई गोड्डा के द्वारा लगातार 17 महीने से बंद पड़े स्कूलों को खुलवाने के मांगो को लेकर बोरियो विधायक लोबिन हेंब्रम को एक ज्ञापन सौंपा, प्रतिनिधि मंडल द्वारा दिये गए ज्ञापन में लिखा गया कि विद्यालय एवं छात्रावास को खोलने की अनुमति दी जाए ताकि बच्चे ऑफलाइन की समुचित शिक्षा का लाभ उठा सकें।

इस संबंध में विधायक लोबिन हेंब्रम ने प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन द्वारा मांगों को उठाये जाने के बाद बताया कि मैं सरकार से मांग करता हूं कि सरकार सारे कामों को छोड़कर सबसे पहले विद्यालय खोले,रोड,नाला,पुल- पुलिया,प्रधानमंत्री आवास या जो भी डेवलेपमेंट के कार्य हो रहे हैं सरकार उसे रोककर सबसे पहले कल से स्कूल को खोले क्योंकि बच्चे का पढ़ाई बहुत ज्यादा प्रभावित हो रहा है, सरकार को यह सोचना चाहिए कि बहुत सारे राज्य में स्कूलों को खोला गया है यहां तक की बगल के राज्य बिहार में भी कुछ क्लास को खोला गया है परंतु झारखंड सरकार अभी तक इस बिंदु पर कोई भी विचार नहीं कर पायी है यह दुर्भाग्यपूर्ण है।उन्होंने कहा कि ऑटो में बस में हटिया बाजार में हर जगह आदमी का भीड़ रहता है उससे कोरोना नही फैलता तो बच्चों को पढ़ने से कैसे फैल सकता है ,सरकार से मेरी मांग है कि अविलंब स्कूल को खोला जाय ताकि पठन पाठन नियमित हो सके ।

विधायक लोबिन हेम्ब्रम ने कहा कि स्कूल को खोलने के लिए सरकार को जल्द से जल्द निर्णय लेना चाहिए ।
इस मौके पर झारखंड प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन के अध्यक्ष समीर कुमार दुबे, सचिव नरसिंह मेहता, कोषाध्यक्ष राजेश मंडल के अलावा पंकज कुमार घोषाल, प्रलय सिंह, रवि, श्रवण कुमार, शशि कांत, अरुण कुमार, अब्दुल कलाम, अरविंद कुमार, लंबोदर पंडित, प्रकाश रंजन, पंकज कुमार, अमित राय, अशोक यादव, राम पंडित, अख्तर जुनेद, नीलकंठ मनी, ज्ञान प्रकाश, कार्तिक महतो, गोपाल शर्मा, जाकिया मिंज, अमित कुमार, राजीव राज, देवेंद्र कुमार, विजय कुमार पंडित, मुकेश कुमार आनंद, सुभाष कुमार महतो, विजय राय आदि के अलावा लगभग 30 से 35 की संख्या में स्कूल संचालक उपस्थित थे ।

About मैं हूँ गोड्डा (कार्यालय)

Check Also

बसंतराय में पदाधिकारियों की मनमानी से जनता परेशान,जनसमस्याओं के प्रति पदाधिकारी संवेदनहीन ।

तीन पदों के बोझ तले दबे पदाधिकारी जनसमस्याओं के प्रति संवेदनहीन प्रखंड दिवस के दिन …

09-23-2021 15:56:27×