Home / प्रखंड / गोड्डा / एक गुजारिश ! एक जिंदिगी की खातिर,दो यूनिट खून के लिए तड़प रहा गोड्डा !

एक गुजारिश ! एक जिंदिगी की खातिर,दो यूनिट खून के लिए तड़प रहा गोड्डा !

इतनी रात को मैं लिखने को विवश हुआ और कुछ लिख रहा हूँ ,हमे नही पता की सिस्टम क्या सोच रही है लेकिन इतना पता है की सिस्टम तभी अपनी सक्रियता दिखाती है ,जब हमारे पास खोने को कुछ नही बचता है ,आज एक महिला जो गोड्डा के किसी निजी अस्पताल में भर्ती है जिसे A निगेटिव ब्लड की सख्त जरूरत है ,वो जिन्दगी और मौत से जूझ रही है …इश्वर न करे की हमे मायूसी हाथ लगे !
इससे पहले हमारे किसी मित्र के द्वारा ये सुचना मिली ,हालांकि A निगेटिव एक रेयर ब्लड ग्रुप है जो बड़ी मुश्किल से उपलब्ध हो पाती है फिर भी उन साथियों के साथ मैंने भी काफी मशक्कत की ब्लड उपलब्ध कराने में लेकिन आखिरकार निराशा हाथ लगी ,और मैं काफी आहत हुआ की आज एक महिला जो एक ब्लड ग्रुप न मिलने के कारण जिंदिगी और मौत से जूझ रही है ,उसे इतने बड़े शहर में ब्लड न मिल पाना सिर्फ इसलिए क्यूंकि शहर में एक भी सरकारी ब्लड बैंक नही है ,सरकार तमाम तरह की योजना ला रही है ,अपनी उपलब्धी गिना रही है और कोई दो यूनिट ब्लड के लिए तरश रही है जो की शर्मनाक है,मै ध्यान आकृष्ट कराना चाहता हूँ आदरणीय Narendra Modi सर को माननीय Raghubar Das जी को एवं हमारे सांसद माननीय Nishikant Dubey जी को की आज एक महिला जो मौत से जूझ रही है जो सिर्फ लाचार और विवश है तो खून के लिए हलांकि कई ऐसे खून के सौदागर भी हैं जो खून ले तो लेते हैं लेकिन जब कभी ऐसी परिस्थिति सामने होती है तो बात सौदे पर आकर पूर्ण विराम लगा जाता है !

आप तमाम जनप्रतिनिधि निधि से बस एक ही गुजारिश है की किसी तरह इस शहर को एक ब्लड बैंक दे दें ,ताकि फिर किसी की माँ किसी की बहन या किसी का भाई ,बेटा इस तरह से खून के लिए मोहताज न हो …..!

                                     राघव मिश्रा 

About राघव मिश्रा

Check Also

झारखण्ड सरकार विकास के कार्यों को रोक, कल से खोले स्कूल : लोबिन हेम्ब्रम ।

गोड्डा/रविवार को झारखंड प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन रांची, जिला इकाई गोड्डा के द्वारा लगातार 17 महीने …

07-31-2021 12:54:59×