Home / गोड्डा प्रखण्ड / गोड्डा / जनप्रतिनिधि के आवाज को दबाने का प्रयास : अमित मंडल !

जनप्रतिनिधि के आवाज को दबाने का प्रयास : अमित मंडल !

फेसबुक पर समर्थक द्वारा टिप्पणी करने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। रविवार  को विधायक अमित मंडल से घंटो नगर थाना में एसडीपीओ अभिषेक कुमार ने पूछताछ की। इसके अलावे नामजद शुभम भगत व संजय मंडल से भी पूछताछ की गयी। पूछताछ के बाद नगर थाना परिसर से निकलने के दौरान विधायक प्रेस से रूबरू हुए। इस दौरान वे पुलिस प्रशासन पर जमकर बरसे। कहा कि मामूली सी बात पर पुलिस ने उनके खिलाफ नोटिस जारी कर दिया। आश्चर्य की बात तो यह है कि फेसबुक पर टिपप्णी के मामाले में अब तक एक भी गिरफ्तारी नही हुई है इसके बावजूद उनके खिलाफ नोटिस जारी कर दिया गया। यह कहाँ तक सही है। उन्होंने पुलिस प्रशासन की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए कहा कि क्या अभी तक अवैध बालू उठाव पर रोक लग पाया है, बोदरा में मूर्ति चोरी का अब तक खुलासा नही हो पायी है, उन धमकी भरे मैसेज करने वाला आरोपी अब तक गिरफ्त से बाहर है, पीयूष मिश्रा हत्याकांड को पुलिस समान्य घटना बता रही थी जो बाद में मर्डर साबित हुआ। ऐसे दर्जनों मामले है जिस पर पुलिस प्रशासन की रवैया असंतोषजनक है।

अगर कोई जनप्रतिनिधि इस मामले को किसी भी बैठक में उठाता है तो इस प्रकार से उसे दबाने का प्रयास किया जाता है। प्रशासन सोचता है कि बच्चा विधायक उन लोगों की फजीहत करता है। अमित मंडल किसी से डरने वाला नही है। लोहा जितना तपता है उतना मजबूत होता है। कहा कानूनन जहाँ तक होगा इस मामले पर आगे बढा जाएगा। अगर विशेषाधिकार लाने की बात होगी तो यह भी किया जाएगा। मुख्यमंत्री को इस पूरे मामले से अवगत कराया जाएगा।

  • थाना परिसर की सुरक्षा बढायी गयी :

23760239_927796627371174_466470655_o (1)

विधायक से पूछताछ के दौरान थाना परिसर की सुरक्षा अन्य दिनों के विपरित बढा दी गयी थी। संभवतः विधायक की पूछताछ में समर्थक द्वारा कोई विघ्न पैदा न हो इसके कारण ऐसा किया गया होगा। लेकिन कुछ बुद्धिजीवी व नेताओं के गले से यह बात उतर नही रही है। एक माननीय को थाना बुलाकर पूछताछ के दौरान सुरक्षा व्यवस्था पुख्ता करना कहा तक जायज है। इस दौरान किसी भी कार्यकर्ता या समर्थक को थाना परिसर के मुख्य द्वार से अंदर जाने नही दिया गया। सभी लोग मुख्य दरवाजा पर ही खडे रहे। इस दौरान  मीडिया कर्मियों पर भी अंदर जाने की पांबदी लगा दी गयी।

दर्जन भर प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया कर्मी बाहर ही खड़े  रहे

मुख्य गेट पर तैनात पुलिस जवान ने कहा कि यह साहब का निर्देश है कोई भी आदमी को अंदर नही आने दिया जाए।

  • विधायिका पर हावी होना चाह रही है कार्यपालिका :प्रदीप यादव 

प्रदीप यादव ने विधायक अमित मंडल को थाना में पूछताछ करने के मामले में विपक्ष के नेता सह पोडैयाहाट विधायक प्रदीप यादव ने तल्ख टिप्पणी की है। उन्होंने कहा है कि एक जनप्रतिनिधि को थाना में पूछताछ किया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है। यह विशेषाधिकार का हनन है। यहा पर कार्यपालिका विधायिका पर हावी होना चाह रही है। पुलिस प्रशासन ने प्रोटोकॉल का घोर उल्लंघन किया है।

मैं हूँ गोड्डा से

Abhisahek Raj

अभिषेक राज की रिपोर्ट 

About मैं हूँ गोड्डा (कार्यालय)

Check Also

DMFT के डॉक्टरों के वेतन भुगतान को लेकर IMA करेगा कार्य बहिष्कार,48 घंटे का अल्टीमेटम ।

शनिवार को IMA की हुई बैठक में एक अहम फैसला लिया गया । बैठक में …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

10-20-2020 06:36:39×