Home / ताजा खबर / जहाँ चाह वहाँ राह को चरितार्थ कर रही है श्रमदान से बन रही दो राज्यों को जोड़ने वाली सड़क ।

जहाँ चाह वहाँ राह को चरितार्थ कर रही है श्रमदान से बन रही दो राज्यों को जोड़ने वाली सड़क ।

दो राज्यों को मिलाने वाली ग्रामीण सड़क आज तक जीर्णावस्था में

भाजपा नेता सह मुखिया पति के अगुआई में हो रहा है सड़क का जीर्णोद्धार
अभिजीत तन्मय/गोड्डा/ गोड्डा जिला के पोड़ैयाहाट प्रखंड के पश्चिमी क्षेत्र में बिहार से सटे सोनडीहा पंचायत के अमड़ा कामत, अमड़ाकनॉली गाँव होते हुए प्रतापपुर को मिलाने वाली करीब 1500 मीटर की सड़क काफी दयनीय स्थिति में है। यह सड़क ग्रामीण विकास(आर ई ओ) के अंदर आता है इसीलिए पंचायत की राशि से इसका निर्माण संभव नही है। इस सड़क के निर्माण से ग्रामीणों को मुख्यालय जाने में करीब 5-6किलोमीटर का फासला कम हो जाएगा।

Screenshot_20181004-195541

यह सड़क इतनी खतरनाक साबित हो रही है कि अक्सर यहां दुर्घटना होने की वजह बनती है। बारिश के समय तो ग्रामीणों का जीवन नरक बन जाता है शायद इसी कारण #सरकार की नज़र-ए-इनायत की उम्मीद छोड़ कर ग्रामीण खुद से भाजपा नेता सह मुखिया पति प्रेमनन्दन मंडल की अगुवाई में श्रमदान कर सड़क का जीर्णोद्धार करने को सोचा। उसी कड़ी में आज से ही ग्रामीण अपने कुदाली और कढ़ाई से ही मिट्टी काट कर सड़क में भरना शुरू कर दिए। ग्रामीणों के उत्साह को बढ़ाने के लिए नेता जी भी काम में शरीक हो गए। साथ ही साथ ग्रामीण लोग ढोल नगाड़ों के द्वारा ओजपूर्ण ध्वनि के साथ पूरे श्रमदान का समां बाँध दिया। उत्साह से लबरेज ग्रामीण कुछ दिनों में इस सड़क को चलने लायक बना देंगे ये उम्मीद जताई।

Screenshot_20181004-195615
ग्रामीणों को इस बात की भी उम्मीद है कि शायद इस खबर को देख कर विभाग,नेता,विधायक,सांसद और सरकार की आंख खुल जाए और इस इलाके का कुछ भला हो जाये।
भाजपा नेता प्रेमनन्दन मंडल यहां के विधायक जो पूर्व में मंत्री और सांसद भी रहे उनपर निशाना साधते हुए कहा कि यहां के वोट से तो सदन पहुँच गए लेकिन ग्रामीण शहर कैसे जायेंगे इस बात की कभी फिक्र नही की। हालांकि भाजपा नेता ने सूबे की सरकार पर भी निशाना साधा और विकास नही होने के कारण दोषी माना।
इस श्रमदान में ग्रामीणों का मनोबल बढ़ाने के लिए बिहार जदयू के नेता भी पहुँचे जो बगल के गाँव(बिहार राज्य) के निवासी है। उन्होंने भी सड़क निर्माण की मांग की।
सरकार कब तक जागती है या जनप्रतिनिधियों के कानों में कब जूं रेंगेगा ये तो भविष्य के गर्भ में है लेकिन इनके मेहनत से कई गाँवों के लोगों की परेशानी कुछ समय तक जरूर कम हो जाएगी।

 

 

About मैं हूँ गोड्डा (कार्यालय)

Check Also

गोड्डा: दुर्गा पूजा को लेकर एसपी का निर्देश,सभी थानों ले लिए गाइडलाइन जारी ।

पुलिस अधीक्षक गोड्डा वाइ एस रमेश के निर्देशानुसार सभी थाना क्षेत्रों में मंगलवार शाम 4 …

10-21-2020 04:43:42×