Home / ताजा खबर / महगामा विधायक के खिलाफ एकजुट हुआ पुलिस एसोसिएशन पांच थाना प्रभारियों सहित पुलिस कर्मियों ने खुद के स्थानंतरण करने की एसपी से की मांग ।

महगामा विधायक के खिलाफ एकजुट हुआ पुलिस एसोसिएशन पांच थाना प्रभारियों सहित पुलिस कर्मियों ने खुद के स्थानंतरण करने की एसपी से की मांग ।

महगामा विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस की विधायक दीपिका पांडे सिंह के व्यवहार से नाराज गोड्डा जिले के पांच थाना प्रभारियों और पुलिसकर्मियों ने एसपी से खुद का स्थानांतरण करने की मांग की है.

गोड्डा जिले के महगामा विधानसभा क्षेत्र में पड़ने वाले मेहरमा, महगामा, हनवारा, बेलबड्डा और ठाकुर गंगटी के थाना प्रभारियों और सभी पुलिसकर्मियों ने गोड्डा एसपी और झारखंड पुलिस मेंस एसोसिएशन और झारखंड पुलिस एसोसिएशन को पत्र लिखा है.

पत्र में कहा है कि हम सभी पुलिसकर्मियों और पदाधिकारियों को महगामा विधानसभा क्षेत्र के थानों से दूसरी जगह स्थानांतरण करने की कृपा की जाये ताकि हम सभी विधि सम्मत सरकारी कार्य करते हुए अपने आत्मसम्मान को बचा सकें.

‘विधायक एवं उनके कार्यकर्ता द्वारा पुलिस के आत्मसम्मान को पहुंचाया गया ठेस’

थाना प्रभारियों और पुलिसकर्मियों द्वारा लिखे गये पत्र में कहा गया है कि महगामा विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस पार्टी की विधायक दीपिका पांडे सिंह के निर्वाचन के बाद से ही थाना क्षेत्र में विधायक व उनके कार्यकर्ताओं द्वारा धौंस दिखाकर हमेशा हमारे और अधीनस्थ पुलिसकर्मियों के आत्मसम्मान को ठेस पहुंचायी जा रही है, जिससे विधि सम्मत कार्य करने में काफी कठिनाई होती है.

एसोशिएशन ने उठाई मांग
एसोशिएशन ने उठाई मांग

साथ ही वर्तमान समय में कोरोना महामारी के दौरान लॉक डाउन का अनुपालन कराने के क्रम में विधायक के कार्यकर्ताओं के द्वारा लॉक डाउन को तोड़ा जाता है और उनको समझाने और मना करने पर विधायक एवं उनके कार्यकर्ताओं द्वारा पुलिस के साथ अभद्र व्यवहार किया जाता है.

खुद के स्थानांतरण की मांग

थाना प्रभारियों और पुलिसकर्मियों ने पत्र में कहा कि विधायक के कार्यकर्ताओं द्वारा बार-बार निलंबित कराने की धमकी दी जाती है जिससे थाना पर पदस्थापित पुलिस अधिकारी और कर्मियों के आत्मसम्मान को ठेस पहुंचती है.

इससे पुलिस पदाधिकारी और पुलिसकर्मियों की भावना आहत है और मनोबल भी काफी नीचे गिरा हुआ है. महगामा विधानसभा क्षेत्र के थानों से दूसरी जगह स्थानांतरण करने की कृपा की जायी. ताकि हम सभी विधि सम्मत सरकारी कार्य करते हुए अपने आत्मसम्मान को बचा सकें.

विधायक ने लॉकडाउन का उल्लंघन करते हुए किया थाने का घेराव ।

मिली जानकारी के अनुसार पत्रकार अर्णब गोस्वामी के द्वारा दिये गये बयान के बाद बुधवार रात विधायक दीपिका पांडे सिंह महगामा थाना में अर्नब गोस्वामी के ऊपर एफआइआर दर्ज कराने गयी थीं.

इसके बाद थाना प्रभारी ने कहा कि मैं अपने ऊपर के अधिकारी से बात करके एफआइआर करूंगा. इसी दौरान विधायक के 50 से ज्यादा समर्थकों ने थाने का घेराव कर लिया.एवं धरने पर बैठ गए ।

इसके बाद में महगामा थाना में पुलिस के वरीय अधिकारी पहुंचे और एसपी भी पहुंचे. इसके बाद विधायक दीपिका पांडे थाना में धरने पर बैठ गयीं. एसपी के पहुंचने के बाद एफआइ आर दर्ज हो गयी.

इसके बाद विधायक ने कहा कि हम थानेदार के यहां से एफआइआर की कॉपी नहीं लेंगे. हम एसपी के यहां से एफआइआर की कॉपी लेंगे.

एसपी द्वारा विधायक को एफआइआर कॉपी देने के बाद विधायक ने कहा कि थाना प्रभारी को सस्पेंड कीजिए. इसके बाद एसपी ने इसमें अपनी असमर्थता जाहिर की लेकिन विधायक ने कहा कि अभी ही सस्पेंड करना होगा.

किसी भी माननीय को पुलिसकर्मियों का सम्मान लेने का अधिकार नहीं: राकेश पाण्डेय

झारखंड पुलिस मेंस एसोसिएशन के प्रदेश उपाध्यक्ष राकेश कुमार पांडेय ने कहा है कि महगामा विधायक पर लॉक डाउन का उल्लंघन करने के लिए जल्द से जल्द एफआईआर दर्ज हो.

किसी भी माननीय को पुलिसकर्मियों का सम्मान लेने का अधिकार नहीं है

पुलिसकर्मी के द्वारा अगर कोई लापरवाही बरती जाती है तो उसके लिए नियम संगत कार्रवाई पुलिस अधीक्षक के द्वारा की जाती है.

इस तरह से अपने पद का दुरुपयोग करना दुर्भाग्यपूर्ण है. झारखंड पुलिस मेंस एसोसिएशन इसकी निंदा करता है.

About मैं हूँ गोड्डा (कार्यालय)

Check Also

कोरोना को लेकर समिति का शख्त कदम ,तमाम एहतियात के बीच किया जा रहा पूजा ।

ठाकुर गंगटी/प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न दुर्गा मंदिरों में गुरुवार को दुर्गा पूजा की षष्ठी तिथि …

10-29-2020 07:30:36×