Home / ताजा खबर / परिवहन विभाग की बड़ी कार्रवाई, तीन दिन में वसूले छह लाख रूपये ।

परिवहन विभाग की बड़ी कार्रवाई, तीन दिन में वसूले छह लाख रूपये ।

हनवारा के क्षेत्र में तीन दिनों तक चला अभियान, दर्जनों वाहन जब्त

महागामा अनुमंडल क्षेत्र में विगत तीन दिनों से परिवहन विभाग ने बड़ी कार्रवाई की। इस दौरान कुल 168 ट्रक से कुल 6 लाख 63 हजार रूपये की वसूली की गयी है। परिवहन विभाग के जिला अधिकारी मनोज कुमार का कहना है कि लगातार तीन दिनों तक कार्रवाई की गयी है। इस दौरान वाहन मालिकों के बीच डर का माहौल है। अब ना के बराबर ओवरलोड वाहन चल रहे है।

IMG-20181207-WA0120
वाहन सड़क पर रहे खड़े, थाना परिसर में जगह नहीं :

जांच के दौरान सैकड़ो वाहन सड़क के बीचोबीच ही खड़े रहे। हालांकि शुरूवाती दौर में कुछ वाहनों को थाना परिसर लाया गया। लेकिन इतनी अधिक संख्या में वाहन होने पर थाना परिसर में जगह भी कम पड़ गए। जिसके बाद वाहनों को सड़क पर छोड़ दिया गया। इस दौरान जब्त वाहनों की कागजात व माइनिंग का चलान की जांच की गयी। इसमें अधिकांश वाहन ओवरलोड थे वही काफी वाहनों के पास माइनिंग का चलान नहीं था। मालूम हो कि हनवारा-नयानगर मार्ग पर 31 दिसंबर की रात से ही परिवहन विभाग की टीम ने कार्रवाई शुरू की थी। इस दौरान 162 वाहनों को जांच के लिए रोका गया था। मिली जानकारी के अनुसार जिन वाहनों में माइोनग चालान नहीं है उनपर प्राथमिकी दर्ज कराई जाएगी।

शहर में भी की गयी कार्रवाई :

हनवारा में कार्रवाई को देखते हुए एसडीओ फुलेश्वर मुर्मू, खनन पदाधिकारी मेघलाल टुडू व सैट की टीम ने संयुक्त रूप से कार्रवाई की। जिसमें दस वाहनों को जब्त कर थाना ले आया गया है। इन वाहनों में ओवरलोड वाहनों में नौ में छररी व एक में कोयला लोड था। इसमें किसी भी वाहन का चलान भी नहीं था। जिसके बाद सभी वाहनों को थाना ले आया गया। साथ ही एफआईआर दर्ज करने का भी निर्देश नगर थाना को दिया गया है।

सब कमिशन की मारामारी :

ओवरलोड वाहनों पर लगातार हो रहे कार्रवाई पर पोड़ैयाहाट विधायक प्रदीप यादव ने कटाक्ष करते हुए कहा कि यह कार्रवाई महज एक दिखावा है। इसके भितर कमिशन का खेल है। एक दूसरे पदाधिकारी के बीच मतभेद का नया नमूना देखने को मिल रहा है। इतने दिनों से ओवरलोड वाहन चल रहे थे तो आज तक कार्रवाई क्यों नहीं की गयी। कार्रवाई के नाम पदाधिकारी महज दिखावा कर रहे है। ओवरलोड बालू, कोयला आदि खनिज दूसरे राज्य अवैध तरीके से जा रहे है। आज नदियों का अस्त्तिव समाप्त होने के कगार पर है। सवाल उठता है कि प्रशासन की नींद आज क्यों खुली। इस मामले को लेकर सचिव को पत्र लिखा जाएगा।

20181014_160921

About मैं हूँ गोड्डा (कार्यालय)

Check Also

JusticeForAppu : SP ने थानेदार को किया सस्पेंड, थाने में पुलिस की पिटाई से अप्पू की हुई थी मौत ।

भागलपुर/इंजीनियर आशुतोष पाठक की पुलिस की पिटाई से मौत मामले में नवगछिया एसपी ने कार्रवाई …

10-31-2020 10:03:07×