Home / ताजा खबर / गोड्डा को छोड़ संताल परगना के अन्य जिलों में औसतन कम हुई बारिश,गोड्डा के किसानों में खुशी ।
IMG_20200625_233603

गोड्डा को छोड़ संताल परगना के अन्य जिलों में औसतन कम हुई बारिश,गोड्डा के किसानों में खुशी ।

विगत 3,4 वर्षों से गोड्डा जिला सुखाड़ का दंश झेल रहा है ,हलांकि लॉकडाउन में हुए मौसम साफ की वजह से इस बार बारिश लगभग सभी जिलों अच्छी हो रही है ऐसा बहुत कम देखने को मिला था बारिश की वजह से गर्मी दिनों में भी गर्मी का एहसास न हो.संथाल परगना में गोड्डा ही एक मात्र जिला है जहां औसतन बारिश अधिक हुई है ।

राज्य के करीब सभी जिलों में अच्छी बारिश हो रही है. मॉनसून के पहले 10 दिनों में पूरे झारखंड में सामान्य से करीब 22 फीसदी अधिक बारिश हो चुकी है. पूरे राज्य में अब तक 127 मिमी के आसपास औसत बारिश होनी चाहिए थी. इसकी तुलना में करीब 160 मिमी के आसपास बारिश हुई है.अगर प्रमंडलवार देखें, तो संताल परगना को छोड़ सभी प्रमंडलों में भी अच्छी बारिश हुई है. संताल परगना के कुछ जिलों में सामान्य से कम बारिश हो रही है. सबसे खराब स्थिति देवघर की है. देवघर जिले में सामान्य से करीब 77 फीसदी कम बारिश हुई है.

मौसम विभाग के मुताबिक, देवघर में अब तक सिर्फ 30 मिमी बारिश हुई है. जबकि, इस अवधि तक यहां 132 मिमी से अधिक बारिश हो जानी चाहिए थी. दुमका जिले में सामान्य से करीब 15 फीसदी कम बारिश हुई है. पाकुड़ में भी अब तक करीब 90 मिमी के आसपास ही बारिश हुई है. यहां इस अवधि तक सामान्य रूप से करीब 165 मिमी बारिश होनी चाहिए थी. साहेबगंज में भी सामान्य से आठ फीसदी कम बारिश हुई है. वहीं गोड्डा ही एक मात्र ऐसा जिला है, जहां सामान्य से 13% अधिक बारिश हुई है.मॉनसून के पहले 10 दिनों में झारखंड में सामान्य से 22 प्रतिशत अधिक बारिश हुई ।

संथाल में बारिश का ग्राफ
संथाल में बारिश का ग्राफ

सबसे खराब स्थिति देवघर की, 77 फीसदी कम बारिश

गुमला और खूंटी में भी कम बारिश : दक्षिणी छोटानागपुर प्रमंडल में गुमला और खूंटी जिला ऐसा है, जहां सामान्य से कम बारिश हुई है. मौसम विभाग के आकड़े के मुताबिक, गुमला में सामान्य से करीब 49 फीसदी कम बारिश हुई है. वहीं खूंटी जिले में सामान्य से करीब 12 फीसदी कम बारिश हुई है.

गोड्डा के किसानों में लौटी खुशी :

लॉकडाउन के बीच हुई बारिश से जहां खेतों में धान के बाद मूंग की फसल की अच्छी पैदावार हुई है ,वहीं अब आद्रा नक्षत्र के प्रवेश होते ही बारिश होने पर किसानों के चेहरे पर खुशी लौट गई है ,अमूमन किसान आद्रा नक्षत्र आते ही धान की फसल के लिए बीज अपने खेतों में छींटते हैं .और समय पर बारिश हो जाय तो सोना पर सुहागा हो जाता है .किसान अभिमन्यु बताते हैं कि इस बार लॉकडाउन के कारण भी पानी ज्यादा पड़ रहा है शायद गाड़ी बन्द रहने से प्रदूषण नही फैला उसके कारण भी अच्छी बारिश हो रही है,अभिमन्यु कहते हैं कि अगर ऐसे ही समय समय पर पानी जारी रहा तो हम सब खेतों से हर तरह के फसल उपजा लेंगे और ये धरती फिर सोना उगलेगी ।

About मैं हूँ गोड्डा (कार्यालय)

Check Also

IMG_20200703_010533

ओवरटेक कर डिजायर को किया हाईजैक,गाड़ी समेत 14 हजार लूट के फुर्र हो गया लुटेरा ।

पोडै़याहाट :पोड़ैयाहाट गोड्डा मुख्य मार्ग एनएच 133 ए पर बुधवार की रात भटौंधा के पास …

07-07-2020 19:32:22×