Home / ताजा खबर / वेलेंटाइन के दिन अपनी भारत माँ से इतने प्यार करने वाले उन शहीद जवानों को सलाम ।

वेलेंटाइन के दिन अपनी भारत माँ से इतने प्यार करने वाले उन शहीद जवानों को सलाम ।

ना भूल पाने वाला वेलेंटाइन डे
अभिजीत तन्मय/ सारा देश 14 फरवरी को वेलेंटाइन डे मना रहा था! सूर्य अब अस्त होने की तैयारी में था! शाम अपनी बाहें फैला कर सबको बुलाने की तैयारी में जुट रही थी कि अचानक तेज आवाज और चीख-पुकार और आग की लपटों के साथ सीआरपीएफ के जवानों से भरी बस के परखच्चे उड़ जाते है।
सामने से कोई आतंकी कार में करीब 200 किलो आरडीएक्स विस्फोटक सामग्री लेकर आत्मघाती हमला कर देता है और एक साथ 41 जवान शहीद हो गए।
तैयारी इतनी पुख्ता थी कि इस हमले के बाद कोई ना बचे इसके लिए भी आतंकी मोर्चा संभाल कर बैठे हुए थे।
विस्फोट के बाद आग की तरह ये खबर सीआरपीएफ मुख्यालय पहुँची। फिर शुरू हुआ आंकड़ों का खेल! 8 शहीद,32 घायल फिर 14 शहीद 26 घायल लेकिन अंततः सभी सैनिक जो बस में सवार थे वो शहीद हो गए।

IMG-20190214-WA0036
तस्वीरें इतनी भयावह थी कि रूह काँप जाती थी। हर तरफ मांस का लोथड़ा और बिखरे खून पत्थरदिल दिल इंसान को भी मोम बनाने के लिए काफी था।
एक शहीद का सिर्फ हथेली दिखाई पड़ रही थी बाकी वर्दी का कुछ हिस्सा उसके जिस्म से उलझा हुआ था।
थोड़ी देर के बाद आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद ने इस घटना की जिम्मेदारी ले ली।
बहुत दिनों से कश्मीर की वादियों में धमाके बन्द हो गए थे लेकिन आज फिर बर्फ खून से लाल हो गयी।
अब दिल्ली के साथ साथ पूरे देश मे इस घटना को लेकर रोष है। सरकार पर दवाब भी है। जनता की भावनाओं के साथ साथ विपक्षियों का तंज भी देखना होगा।अंतर्राष्ट्रीय परिपेक्ष्य में भारत की मौजूदा पहचान भी अलग है इसीलिए बहुत कुछ सोच समझ कर ही निर्णय लेना होगा।
कल हम बदला ले भी लेंगे। 41 के बदले 82 मार भी देंगे लेकिन क्या उन परिवारों को जवाब दे पाएंगे जब कॉफिन में तिरंगे में लिपटा हुआ मांस का लोथड़ा के साथ शहीद का शव उनके घर पहुँचेगा!
किसके शरीर का कौन सा हिस्सा किसके घर पहुँचेगा ये कोई नही बता सकता लेकिन एक बात तो है कि “देश की सेवा में लगे रहने वाले ऐसे वीरों ने अपने खून का एक-एक कतरा इस मिट्टी को दे दिया।”
शरीर जो जलने के बाद मिट्टी में मिलता है वो इन शहीदों ने जिंदा में धरती माँ को समर्पित कर दिया।
आज की तारीख को इन शहीदों के परिवार वाले कभी नही भूल पाएंगे क्योंकि अपनों के प्यार का एहसास दिलाने वाला ये दिन आज उनके अपने प्यारे अजीज बेटा,भाई,पिता,पति,आशिक और मित्र को हमेशा के लिए छीन कर ले गया जो अब कभी भी लौट कर नही आएगा लेकिन अगर आज का दिन सचमुच प्रेम की अभिव्यक्ति करने का है तो सचमुच उनके घरवाले इस बात को भी नही भूलेंगे की इस देश से सबसे ज्यादा प्यार करने वाला उसका पति,पिता,बेटा,भाई आज अपने प्यार पर न्योछावर हो गया।
हाँ इस वेलेंटाइन डे पर हमारे वीर जवान अपने जान से ज्यादा जिस भारत माँ को चाहते थे उस पर जान लुटा दिए।
देश के वीर योद्धाओं को नमन
उनके परिजनों को नमन
इस देश की मिट्टी को नमन

About मैं हूँ गोड्डा (कार्यालय)

Check Also

कोरोना को लेकर समिति का शख्त कदम ,तमाम एहतियात के बीच किया जा रहा पूजा ।

ठाकुर गंगटी/प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न दुर्गा मंदिरों में गुरुवार को दुर्गा पूजा की षष्ठी तिथि …

10-29-2020 04:10:23×