Home / गोड्डा प्रखण्ड / गोड्डा / गोड्डा:भाजपा नेता सूर्या हांसदा निकला अदानी के कार्यों में आग लगाने वाले का मास्टरमाइंड: एसपी

गोड्डा:भाजपा नेता सूर्या हांसदा निकला अदानी के कार्यों में आग लगाने वाले का मास्टरमाइंड: एसपी

गोड्डा 9 जनवरी की रात्रि ठाकुरगंगटी थाना अंतर्गत बहादुरचक गांव स्थित अदानी पावर प्लांट के काम मे लगे दो हाइड्रा और एक पोकलेन मशीन में आग लगाकर जला दिया गया था,जिसके बाद पुलिस लगातार छापेमारी कर रही थी ,और उस घटना में संलिप्त सभी लोगों को चिन्हित किया जा रहा था ,मामले का आज गोड्डा एसपी शैलेन्द्र वर्णवाल ने बड़ा खुलासा करते हुए कहा है कि घटना में संलिप्त 6 अपराधकर्मियों में से तीन को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है ।पुलिस अधीक्षक गोड्डा ने बताया कि भाजपा की टिकट पर पिछले विधानसभा चुनाव में बोरियों विधानसभा से प्रत्याशी रहे सूर्या हांसदा निकला इसका मास्टर माइंड निलका है फिलहाल सूर्या हांसदा पुलिस की गिरफ्त से बाहर है ।

गिरफ्तार अभियुक्त के द्वारा खुल रहा परत दर परत घटना :

गिरफ्तार व्यक्तियों के द्वारा अपना अपना अपराध कुबूल करते हुए अपने बयान में बताया कि सूर्या हंसदा उर्फ नेता जी शाकिन डकैता थाना ललमटिया जिला गोड्डा द्वारा उक्त सभी अपराध कर्मियों को ग्राम डकैटा स्थित अपने घर पर मीटिंग कर खिला पिला कर दो जरकिन डीजल पेट्रोल देकर ग्राम बहादुरचक में अडानी कम्पनी का चले रहे पाइप लाइन के कार्य मे लगे मशीनों को जलाने के लिए कहा गया ।

सूर्या हंसदा ने छोड़ा था सभी अपराधियों को रेलवे लाइन तक:मोबाइल भी कराया था बंद:

गिरफ्तार अपराधियों ने बताया कि सभी अपराधियों को सूर्या हंसदा रेलवे लाइन के किनारे तक छोड़ा था ,एवं मोबाइल को भी स्विच ऑफ करवा दिया था,तथा पैदल रेलवे लाइन होते हुए जाने को कहा गया ।
इसके उपरांत ये सभी अन्य के साथ मिलकर पैदल ही ग्राम बहादुरचक पहुंचे ,जहां हाइड्रा,करें ,पोकलेन एवं जेनरेटर के पास सो रहे मजदूरों को हथियार के बल से मारपीट कर जख्मी कर दिया गया एवं मजदूरों के बिछावन को हाइड्रा क्रेन नीचे रखकर उसपर साथ लाये डीजल पेट्रोल तेल छिड़कर आग लगा दिया गया ।

सूर्या हांसदा पर एसपी का प्रेस कॉन्फ्रेंस का अंश देखें .

वीडियो

गिरफ्तार तीनो अभियुक्तों के निशानदेही पर घटना में परियुक्त हथियार एवं गोली को घटना स्थल से करीब पांच सौ मीटर उत्तर ठाकुर गंगटी ,माल परतापुर के नहर के पास झाड़ी में बरामद किया गया ।

घटना के बाद भी मास्टरमाइंड के संपर्क में सभी अपराधी:

उक्त सभी अपराधकर्मी का मोबाइल के द्वारा घटना के पूर्व एवं घटना के बाद एक दूसरे से सम्पर्क रहा ,इस घटना में उक्त गिरफ्तार तीनो अभियुक्तों के अतिरिक्त करीब सात आठ अन्य शातिर अपराध कर्मी शामिल थे ।

जेवीएम से भाजपा में हुआ था शामिल

पुलिस ने सूर्या हांसदा को मास्टरमाइंड बताया है ,ये वही सूर्या हांसदा है,जिसने हाल ही में जेवीएम पार्टी से भाजपा की ओर रुख किया था

405983-surya-hansda

और पिछली चुनाव में भाजपा की टिकट पर बोरियो विधानसभा से प्रत्यासी भी बनाया गया था ।

भाजपा के कई बड़े चेहरे के साथ सूर्या हांसदा की है तस्वीर :

भाजपा में शामिल होने के बाद बड़े मंचों पर सूर्या हांसदा
भाजपा में शामिल होने के बाद बड़े मंचों पर सूर्या हांसदा

आरोपी सूर्या हांसदा भले ही आज पुलिस की आंखों से दूर भाग रहा हो । लेकिन लोगों जनता के नेता सूर्या हाल के चुनावी दौरे में भाजपा के कई बड़े दिग्गज नेताओं के साथ मंच पर खड़े होकर सूर्या ने तस्वीर भी खिंचाई है ,पुलिस के द्वारा इस घटना की पुष्टि कर होने के बाद भाजपा नेता फरार है ।

◆इसी गिरोह दूसरी आगजनी कांड को भी दिया था अंजाम

एसपी ने बताया कि इसी आपराधिक गिरोह के द्वारा 9 फरवरी 2020 को साहिबगंज जिला के मिर्जाचौकी थाना अंतर्गत सीटीएस कंपनी के खदान में जाकर हाईवा एवं पोकलेन को जला दिया गया था तथा गोली भी फायर किया गया था।

◆कौन है सूर्या हांसदा ?जाने इतिहास 

इस कांड का मुख्य सूत्रधार सूर्या उर्फ सूर्यनारायण हांसदा अपराध जगत का एक चर्चित शख्सियत है। ईसीएल की राजमहल परियोजना ललमटिया क्षेत्र में परियोजना के इंजीनियर एवं सुपरवाइजर के अपहरण कांड में सूर्या हांसदा एवं उसके भाई महेंद्र हांसदा की संलिप्तता पुलिस ने उजागर की थी। अपहरण कांडों के माध्यम से फिरौती के रूप में इस गिरोह द्वारा भारी भरकम रकम की उगाही की गई थी। कई कांडों में जेल भी जा चुका है।
सूर्या हांसदा अपराध का राजनीतिकरण का जीवंत मिसाल है। अपने आपराधिक जीवन को राजनीतिक लवादा में लपेटने के लिए सूर्या हांसदा बीते तीन विधानसभा चुनाव से बोरियो क्षेत्र से अपनी किस्मत आजमाता रहा है। पिछले चुनाव में हांसदा बोरियो से भाजपा का उम्मीदवार था एवं दूसरे स्थान पर रहा था। भाजपा ने अपने सीटिंग विधायक ताला मरांडी का टिकट काटकर सूर्या हांसदा को उम्मीदवार बनाया था। जबकि 2009 एवं 2014 के चुनाव में सूर्या हांसदा ने बोरियो से झारखंड विकास मोर्चा प्रत्याशी के रूप में अपनी किस्मत आजमाया था। झाविमो उम्मीदवार के रूप में वह तीसरे स्थान पर रहा था।

  • गिरफ्तारी टीम में कौन-कौन थे शामिल ?

इस चर्चित कांड के उद्भेदन एवं अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए गठित विशेष जांच टीम की अगुवाई खुद पुलिस कप्तान शैलेंद्र प्रसाद वर्णवाल कर रहे थे। एसपी के अलावे टीम में महागामा के एसडीपीओ डॉ वीरेंद्र चौधरी, मेहरमा प्रभाग के पुलिस निरीक्षक अशोक कुमार सिंह, महागामा प्रभाग के पुलिस निरीक्षक पंकज कुमार झा, ठाकुरगंगटी के थाना प्रभारी तपन कुमार पाणिग्रही, ललमटिया के थाना प्रभारी जावेद अहमद, बोआरीजोर के थाना प्रभारी सुरेंद्र प्रसाद सिंह, बलबड्डा के थाना प्रभारी अरुण कुमार समेत एसपी कार्यालय के तकनीकी कोषांग के कर्मी सूरज कुमार सिंह, निशांत कुमार पांडे एवं रोहित मुर्मू शामिल थे।

About मैं हूँ गोड्डा (कार्यालय)

Check Also

सुशासन का दंभ भरने वाली बिहार पुलिस की बर्बरता का शिकार हुआ आशुतोष,पुलिस की पिटाई में मौत ।

राघव मिश्रा/लालू के जंगलराज को पटखनी लगाकर अपनी सुशासन की शंखनाद करने वाली बिहार सरकार …

10-30-2020 05:03:10×