Home / गोड्डा प्रखण्ड / गोड्डा / आखिर क्या हुआ सबसे बड़े प्रकरण का ?

आखिर क्या हुआ सबसे बड़े प्रकरण का ?

विधायक को लगानी पडी थी थाने में हाजिरी 

समय के साथ बहुत कुछ बदल जाता है। चाहे कितना भी बडा घाव क्यों न हो वह आखिर भर ही जाता है। ऐसे ही जिले में एक ऐसा प्रकरण जिसने लोगों को सोचने के लिए मजबूर कर दिया था। हम आपको ले चलते है ,करीब पांच माह पूर्व नंवबर के प्रथम समप्ताह में। जहां कार्यपालिका व विधायिका के बीच खाई बनी थी। नंबर माह के पहले दिन से ही इसकी शुरुआत भीषण लूटकांड से हुई थी। तभी जिले में राजनीतिक तापमान अचानक काफी अधिक बढ़ गया। मामला गोड्डा लोकसभा के सांसद निशिकांत दुबे के प्रतिनिधि द्वारा गोड्डा विधायक अमित कुमार पर शिकायत दर्ज कराने का। देर शाम इस खबर की सूचना सभी सोशल मीडिया ग्रुप व फेसबुक पर वायरल हो गयी। इस पर त्तकालीन पुलिस अधीक्षक हरिलाल चौहान ने सूचना जारी किया कि गोड्डा विधायक अमित कुमार को अगले ही दिन नगर थाना में हाजिरी लगाए। दूसरे शब्दों में उन्हें पूछताछ के लिए नगर थाना बुलाया गया। रात भर जिले में राजनीतिक गलियारों में उथल पुथल होती रही। आखिर एक ही पार्टी के विधायक व सांसद एक दूसरे के उपर इस तरह की क्या बात हो गयी कि बात पुलिस तक पहुंच गयी। बता दे कि गोड्डा विधायक अमित कुमार भारतीय जनता पार्टी से उपचुनाव के बाद निर्वाचित हुए है वही सांसद डॉ निशिकांत दुबे विगत 2009 से लगातार गोड्डा लोकसभा क्षेत्र के सांसद है।   दूसरे ही दिन सुबह लगभग ग्यारह बजे स्थानीय विधायक अमित कुमार नगर थाना पहुंचते है। यहां  का माहौल भी काफी बदला हुआ है। थाना के मुख्य दरवाजे पर ही काफी अधिक पुलिस बल की तैनाती की गयी थी। आम आदमी को अंदर जाने की मनाही थी। मुख्य दरवाजे पर विधायक के समर्थक व मीडिया कर्मियों की भीड़ जमा हो चुकी थी। वही नगर थाना के अंदर विधायक अमित कुमार से एसडीपीओ अभिषेक कुमार व तत्कालीन नगर थाना प्रभारी अशोक कुमार गिरी की पूछताछ की प्रक्रिया जारी थी करीब दो से ढाई घंटे के बाद विधायक थाना से बाहर निकले। अपने वाहन पर बैठकर वे थाना परिसर से बाहर निकलने लगे। इस बीच दरवाजे पर ही मीडिया कर्मियों ने उन्हें घेर लिया। जहां पर उन्होंने जानकारी दिया कि किसी कोरका गांव का शुभम कुमार भगत व डहरलंगी गांव का संजय मंडल द्वारा फेसबुक पर पुराने अखबार कटिंग को शेयर कर दिया। आखिर मामला क्या है अभी तक बताया नहीं गया है। इस दौरान किसी पत्रकार ने विशेषाधिकार का उल्लंघन करने की भी बात विधायक से पूछी। जिस पर विधायक ने जवाब दिया कि इस पर भी बात की जाएगी। इस घटना एक बात तो साफ कर दिया था कि पार्टी में सबकुछ ठीक ठाक नहीं चल रहा है। कुछ हल्के मतभेद के कारण इतने बड़े प्रकरण का जन्म लिया है। इस मूद्दे ने करीब एक सप्ताह तक गोड्डा से लेकर राजधानी रांची तक चर्चा का विषय बना रहा था।

अभिषेक राज

अध्याय जारी है……..अगला भाग आगे ….

About मैं हूँ गोड्डा (कार्यालय)

Check Also

कोरोना को लेकर समिति का शख्त कदम ,तमाम एहतियात के बीच किया जा रहा पूजा ।

ठाकुर गंगटी/प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न दुर्गा मंदिरों में गुरुवार को दुर्गा पूजा की षष्ठी तिथि …

10-29-2020 05:35:47×