Home / Sliders / आर्थिक तंगी के कारण डाक्टर की मौत,कर्ज से डूबा हुआ था परिवार

आर्थिक तंगी के कारण डाक्टर की मौत,कर्ज से डूबा हुआ था परिवार

गोड्डा जिले में संविदा के आधार पर कार्यरत डॉक्टर विजय
कृष्ण श्रीवास्तव की लाश आज उनके क्वार्टर से मिली .ब्लाक परिसर स्थित
सरकारी क्वार्टर में डॉक्टर अपनी पत्नी और तीन बच्चों के साथ रहते थे .मगर
जब विगत छह सात माह से वेतन नही मिला तो रोजाना घर में पति पत्नी के
बीच विवाद होने लगी .दूध वाले,किराना वाले के द्वारा सामान देने से इनकार
किये जाने के बाद जब विवाद बढ़ गया तो पत्नी बगल के बिहार के पंजवारा में
बच्चों को लेकर ANM का कार्य करने चली गयी .

आज सुबह क्वार्टर के बगलवालों ने फोन कर पत्नी को सुचना दिया कि उनके क्वार्टर से बदबू आ रही है तब सभी लोग यहाँ पहुंचे तो खिड़की से देखने के बाद डॉक्टर विजय को कमरे में मृत पाया
.पुलिस को सूचित किया गया और फिर दरवाजा को तोडा गया .शरीर पूरी तरह से
गल चूका था ,संभवतः पांच छह दिन पहले ही उनकी मौत हो चुकी थी .

दरअसल डॉक्टर DMFT फण्ड पर संविदा के आधार पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा
निकाले गए निविदा के बाद बहाल किये गए थे .स्वास्थ्य कर्मियों की कमी को
देखते हुए पिछले उपायुक्त के कार्यकाल में स्वास्थ्य कर्मियों की बहाली हुई थी
जिनमे कई डॉक्टर भी शामिल हैं .मार्च महीने के बाद से ही इन सभी का वेतन
जिला प्रशासन द्वारा रोक कर रखा गया है .और वर्तमान उपायुक्त ने सभी
संविदा कर्मियों के वेतन पर रोक लगा दिया गया है .कई कई विभागों में तो पंद्रह
माह से अधिक से वेतन लंबित है .
डॉक्टर की पत्नी सुजाता ने बताया कि यहाँ नौकरी होने के बाद डॉक्टर विजय ने
उनकी anm की नौकरी छुडवा दिया था .मगर अभी पंद्रह दिन पूर्व जब डॉक्टर
के वेतन को लेकर घर में विवाद हुआ तो वे बगल के बांका जिले में किसी नर्सिंग
होम में नौकरी शुरू दोबारा शुरू किये थे .
डॉक्टर विजय मूल रूप से बिहार के पटना के रहने वाले थे और उनके बेटों के
मुताबिक़ मशहूर फ़िल्मी कलाकार शत्रुघ्न सिन्हा के फुफेरे भाई लगते थे .

About मैं हूँ गोड्डा (कार्यालय)

Check Also

कोरोना को लेकर समिति का शख्त कदम ,तमाम एहतियात के बीच किया जा रहा पूजा ।

ठाकुर गंगटी/प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न दुर्गा मंदिरों में गुरुवार को दुर्गा पूजा की षष्ठी तिथि …

10-29-2020 04:25:28×